About Us

SCERT was set up to provide academic leadership and to act as the hub of academic research innovation, inspiration and motivation within the State. It was established to be a symbol of quality and provide philosophical and sociological insights into education for transformation of society. It is responsible mainly for designing the curriculum, development of textbooks, supervision of DIETs and teacher training. The SCERT is a lead academic institution at State level providing support to DIETs, CTEs and engaged in educational research and training. It is functioning along the lines of NCERT at the state level, providing advice to State government on policy issues, support to implementation and appraisal of programs and undertaking activities for quality improvement in school education and teacher education.

Director Message

Shri Sajjan R, I. A. S.

प्यारे साथियों,

विज्ञान एवं गणित विषय का ज्ञान मात्र तथ्यों का संग्रह एवं प्रयोग की प्रक्रिया नहीं है, बल्कि यह एक सोच, दृष्टिकोण एवं कार्यशैली है। शिक्षा की बुनियादी आवश्यकता यह है कि "सीखना और सीखने के लिए सीखना" एक चक्र की तरह उत्साह पूर्वक चलता रहे। आस-पास की वस्तुओं की प्रकृति एवं घटनाओं के घटित होने के कारण तथा उसके प्रभाव को समझने के उपरान्त आवश्यकतानुसार स्थानीय समस्याओं के निदान हेतु तर्क संगत निर्णय/सुझाव देना, विज्ञान सीखने का लक्ष्य होता है। व्यावहारिक जगत में यह तरीका विकासवादी जीवनशैली का उदाहरण माना जाता है।

जमीनी स्तर पर विज्ञान एवं तकनीक का अध्ययन एवं प्रयोग प्रदर्शन के लिए जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से प्रतिवर्ष विज्ञान, गणित एवं पर्यावरण के क्षेत्र में नवाचार प्रदर्शन का अवसर प्रदान किया जाता है। कोरोना काल में इस अवसर को प्रदान करने के लिए Online मंच का गठन किया गया है। NCERT के सौजन्य से एवं SCERT के प्रयास से इस मंच पर राज्य स्तर के अनेको सराहनीय प्रयासों को स्थान प्राप्त है।

Read More

Gallery

Econtent Video

Seminar Video